कंप्युटर कितने प्रकार के होते हैं – Types of Computer in Hindi

दोस्तो आपने कभी ना कभी तो कंप्युटर लिया होगा क्योंकि आप भी यह बात अच्छे से जानते है कि आज के इस युग मे हर जगह कंप्युटर का इस्तिमाल किया जा रहा है चाहे फिर वो कोई ओफिस हो या स्कूल हो या फिर कोई और जगह लेकिन कभी न कभी तो आपने कंप्युटर किया ही होगा। लेकिन क्या आप जानते है कि कंप्युटर के प्रकार (Types of computer in hindi या computer ke prakar) के हैं।

अगर आप नही जानते कि कंप्युटर के प्रकार (Types Of Computer in Hindi) के हैं तो आज हम इस पोस्ट के माध्ययम से हम आपको बतायेंगे कि कंप्युटर के प्रकार (Types Of Computer in Hindi) के हैं। और इन सभी प्रकार के कंप्युटर का इस्तिमाल कहा कहा किया जाता है।

तो अब जान लेते हैं कि आखिर कंप्युटर के प्रकार (Types of computer in hindi या computer ke prakar) के हैं। और यह सभी किन किन जगहो पर इस्तिमाल किये  जाते हैं-

कंप्युटर कितने प्रकार के होते हैं – Types of Computer in Hindi

Types of computer in hindi
Types of computer in hindi

हम  सभी  इस जानते है कि कंप्युटर को वर्गीक्रत करना इतना आसान नही है लेकिन इन्हे हम अपनी जरूरत के आधार पर वर्गिक्रत कर सकते है जो निम्न प्रकार से वर्गिक्रत किये गये हैं।

कंप्युटर के मुख्य तीन प्रकार से वर्गिक्रत किया है-

  1. कार्यप्रणाकली के आधार पर (Based on Mechanism)
  2. उद्देश्य के आधार पर (Based on Purpose)
  3. आकार के आधार पर (Based on Size

कम्प्युटर के प्रकार का इविश्लेषण : Computer Ke Prakar

कार्यप्रणाकली के आधार पर (Based on Mechanism)

कार्यप्रणाकली के आधार पर (Based on Mechanism)के आधार पर कंप्युटर को मुख्य तीन भागो मे बांटा गया है जिनका विस्तार निम्न प्रकार किया गया है।

  1. Analog Computer ( Analog Computer in Hind) –

Analog Computer वो कंप्युटर होते है जो कि Result दिखाने के लिये Analog Signal का इस्तिमाल करते हैं। Analog Computer का इस्तिमाल Physical Quantity को Measure करने के लिये किया जाता हैं।

Analog Computer ऐसा डेटा प्राप्त होता है जिसे हम सीधे पढ सकते है इस डेटा को किसी भी तरह से Convert करने की जरूरत नही होती है।

जैसे – Thermometer, Speedo Meter,[ Mechanical Not a Digital ] इत्यादि जगह पर Analog Computer

  का इस्तिमाल किया जाता है।

Analog Computer का इस्तिमाल उन सभी इडियल कंडीशन किए लिये किया जाता है जहाँ पर डेटा को बिना किसी बदलाव के सीधे सीधे Accept किया जाता है।

  • Digital Computer (Digital Computer in Hindi )-

Digital Computer वो कंप्युटर होते है जिनमे डेटा को दिखने से पहले एक प्रोसेस की जरुरत होती है जिससे कि हमे डेटा को Digit or Number मे दिखाया जा सके.

आज के इस युग मे सबसे ज्यादा इस्तिमाल Digital Computer का किया जा रहा है क्योंकि इसमे डेटा को पढना Analog Computer से आसान होता है।

जैसे – Calculator, Digital Speedo Meter, Digital Thermometer, आदि Digital Computer के आसान और समझे लायक example हैं।

  • Hybrid Computer ( Hybrid Computer in Hindi )

एक Hybrid Computer असल मे Digital और Analog Computer के Combination से मिल कर बने  होते है। जिसमे कि एक Analog Computer की स्पीड और Digital Computer की मेमोरी का इस्तिमाल किया जाता है।

एक Hybrid Computer का इस्तिमाल उन सभी जगह किया जाता है जहाँ पर दोनो तरह के डेटा को प्रोसेस करने की जरुरत होती है।

जैसे – Hybrid Computer का सबसे अच्छा उदहारण है Petrol Pump Machine, क्योंकि इस  मशीन मे पहले तो Fuel Flow को मापता है और उसके बाद हमे एक Quantity देता है कि आपने इस मशीन से इतना Fuel भरवाया है साथ ही हमे यह भी बताता है कि इस Fuel  की कीमत कितनी है और यह सभी डेटा आपको मशीन की स्क्रीन पर देखने को मिल जाते हैं।

उद्देश्य के आधार पर कम्प्युटर के प्रकार ( Base on Purpose )

  1. General Purpose

आज के इस युग मे सबसे ज्यादा जो कम्प्युटर इस्तिमाल किया जा रहा है वो है एक मात्र General Purpose कम्प्युटर क्योंकि इस कम्प्युटर को इस तरह से डिजाइन किया जाता है कि इन कम्प्युटर को आप मल्टीप्रपज के लिये भी इस्तिमाल कर सकते हो।

General Purpose कम्प्यूटर को इसी लिये बनाया गया है कि एक इंसान एक ही कम्प्युटर से अनेक काम कर सके बस उसे उस काम को करने कई लिये कुछ या कुछ सोफ्टवेयर की जरुरत पड सकती है।

  • Special Purpose

Special Purpose कम्प्युटर जैसे कि नाम से पता लग जाता है कि इस तरह के कम्प्युटर का इस्तिमाल किसी स्पेशल काम के लिये किया जायेगा ना कि आप इस तरह के कम्प्युटर मे अलग अलग काम कर पायेगे।

अगर हम इसका एक सीधा सा उदहारण दे कर समझाये तो आप एक डिजिटल वाच को ले सकते हैं क्योंकि इसे सिर्फ एक ही काम के लिये बनाया गया है वो भी सिर्फ समय के लिये इसके अलावा आप इस का इस्तिमाल किसी और काम के लिये नही कर सकते हैं।

इसके अलावा आपको और भी बहुत सारे उदहारण मिल जायेंगे।

आकार के आधार पर कम्प्युटर के प्रकार ( Base on Size)

कम्प्युटर को हम आकार आधार पर निम्न श्रेणियो मे बांट सकते हैं-

  1. Micro Computer
  2. Mini Computer
  3. Main Frame Computer
  4. Super Computer

Micro Computer

Micro Computer का विकास सन्‌ 1970 मे हुआ। यह कम्प्युटर आकार मे बहुत ही छोटे होते है अगर आपका मन करे तो आप इन्हे एक बेग मे रखकर एक जगह से दूसरी जगह आसानी से ले जा सकते हैं।

असल मे इन कम्प्युटर का विकास ही प्रसनल इस्तिमाल के लिये किया गया था क्योंकी इससे पहले के कम्प्युटर आकर मे बहुत ही बडे होते थे और ओर इन्हे किसी बेग मे रख पाना नामुमकिन था। ऐसे मे व Micro Computer का विकास हुआ। इन कम्प्युटर को हम PC or Personal Computer के नाम से भी जानते  हैं।

इस कम्प्युटर मे work process के लिये micro processor का इस्तिमाल किया जाता है। आज के समय मे सबसे ज्यादा इसी कम्प्युटर को इस्तिमाल किया जाता है।

उदाहरण के लिये Laptop, Notebook, आदि।

Mini Computer

Mini Computer आकार मे Micro Computer से बडा होता है। साथ ही साथ इस कम्प्युटर की कीमत भी Micro Computer से ज्यादा होती है।

इस कम्प्युटर मे एक ज्यादा CPU होते है। साथ ही साथ इसकी Processing Speed भी माइकरो  कम्प्युटर से ज्यादा होती है। यह एक ऐसा कम्प्युटर है जिस पर एक समय मे एक से ज्यादा लोग काम कर सकते हैं। इस तरह के कम्प्युटर का इस्तिमाल ज्यादातर बडी बडी कम्पनियो मे किया जाता है।

उदहारण के लिये- बैंकिंग मे, सरकारी औफिस मे  आदि।

Main Frame Computer

Main Frame Computer आकार के साथ साथ प्रोसेसिंग स्पीड भी mini और Micro Computer से ज्यादा होती है। इस कम्प्युटर मे बहुत ही बडे डेटा के प्रोजेक्ट को एक साथ हजारो लोग मिलकर तीव्र गती से कर सकते हैं। इसकी काम करने की शक्ती बहुत ही जादा होती है।

इसीलिये इस कम्प्युटर का इस्तिमाल बैको, सरकारी औफिस, बडी बडी कम्पनीयो में किया जाता है।

Super Computer

आज के इस युग मे सबसे ज्यादा आकार मे बडे Super Computer होते है  असल मे इनका आकार ही बडा नही है बल्कि इनकी काम करने कि शक्ति भी  उतनी हि तीव्र होती है। असल मे Super Computer सबसे तीव्र गती वाले कम्प्युटर होते हैं। इस कम्प्युटर मे एक साथ बहुत सारे प्रोसेसर काम करते है जो कि इस कम्प्युटर की स्पीड को बहुत ही ज्यादा फास्ट कर देते हैं।

इस तरह के कम्प्युटर का इस्तिमाल मौसम विभाग, वैज्ञानिक अनुसंधान, सैन्य, आदि मे किया जाता है।

आज आपने क्या सीखा:-

आजके इस पोस्ट मे हमने आपको Types of computer in hindi या computer ke prakar या computer kitne prakar ke hote hain के बारे मे बताया है हमे उम्मिद है कि जो भी जानकारी हमने आपको इस पोस्ट मे दी है वो आपको अच्छेस से समझ मे आ गयी होगी साथ आपको इस पोस्ट यानि कि Types of computer in hindi या computer ke prakar या computer kitne prakar ke hote hain से कुछ ना कुछ सीखने को जरूर मिला होगा।

तो अगर आपको हमारी यह पोस्ट Types of computer in hindi या computer ke prakar अच्छी लगी हो और आपको लगता है कि इस पोस्ट से आपके  किसी मिलने वाले को कुछ नया सीखने को मिलेगा तो प्लीज इस पोस्ट को शेयर जरूर करना।

साथ हि अगर आपको लगता है कि इस पोस्ट मे यानि कि Types of computer in hindi या computer ke prakar कोई बदलाव करना चाहिये तो हमे कमेंट करके जरूर बताना।

Leave a comment