KYC Kya Hai? – KYC Full Form In Hindi व KYC की सम्पूर्ण जानकारी

KYC बैंकिंग और फाइनेंस के क्षेत्र में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला एक परिचय ट्रम है असल में बैंक और फाइनेंस इंस्टीट्यूशन अपने ग्रह की पहचान उसके पत्ते को वेरीफाई करने के लिए KYC का इस्तेमाल करते हैं केवाईसी का मतलब होता है KYC Full Form in English – “नो यू आर कस्टमर” या KYC Full Form in Hindi“अपने ग्राहक को पहचाने”,

लेकिन क्या आप जानते हैं की kyc kya hai? – केवाईसी क्या है? या kyc kya hota hai? KYC Full Form in Hindi में क्या होती है? kyc ka full form क्या होता हैं? KYC कितने प्रकार की होती है? kyc full name क्या है?

आज के इस दौर में लगभग सभी लोगों के किसी न किसी बैंक में अकाउंट जरूर होगा चाहे फिर वह जनधन खाता हो या फिर वह सेविंग खाता हो या फिर कोई जीरो बैलेंस अकाउंट हो। बैंकिंग और फाइनेंशियल क्षेत्र सुधारने के लिए केवाईसी एक महत्वपूर्ण स्टेट है इसके माध्यम से कोई भी बैंक है फिर कोई फाइनेंशियल कंपनी अपने कस्टमर को आसानी से जान सकती है।

तो अगर आप जाना चाहते हैं की kyc kya hai? – केवाईसी क्या है? या kyc kya hota hai? KYC Full Form in Hindi में क्या होती है? kyc ka full form क्या होता हैं? KYC कितने प्रकार की होती है? kyc full name क्या है? केवाईसी करना क्यों जरूरी है केवाईसी कराने के लिए महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट कौन-कौन सा है|

साथियों आप लोगों को इस पोस्ट के माध्यम से यह भी जानने को मिलेगा ईकेवाईसी कितने प्रकार का होता है केवाईसी कराने के पीछे उद्देश्य क्या होता है इसके अलावा और भी महत्वपूर्ण जानकारी जो आपके लिए केवाईसी से संबंधित जानना बहुत जरूरी है वह सभी जानकारी आप लोगों को इस पोस्ट में मिल जाएंगे|

और हम कोशिश करेंगे कि आप लोगों के जो भी सवाल है और जो भी जानकारी केवाईसी से संबंधित आप लेना चाहते हैं आप लोगों को इस पोस्ट के माध्यम से शेयर करेंगे तो चलिये जानते हैं kyc kya hai? – केवाईसी क्या है? या kyc kya hota hai? KYC Full Form in Hindi में क्या होती है? kyc ka full form क्या होता हैं? KYC कितने प्रकार की होती है? kyc full name क्या है?

KYC Full Form in Hindi
KYC Full Form in Hindi

KYC Kya Hai – KYC क्या है

आपने KYC केए नाम तो कभी ना कभी सुना हि होगा लेकिन क्या आप जानते है कि KYC Kya Hai – KYC क्या है? या फिर कभी आपने जानने कि कोशिश कि है कि KYC Kya Hai – KYC क्या है या KYC Full Form In Hindi मे क्या होती है? लेकिन अगर आप नही जानते है तो आपको आज के इस पोस्ट मे KYC के बारे मे पूरी जानकारी मिलेगी तो चलिये जानते है KYC Kya Hai – KYC क्या है?

असल मे KYC एक तरह कि डॉक्यूमेंट वेरीफिकेशन की प्रक्रिया है जिसके माध्ययम से बैंक और फाइनेंशियल संस्थाये अपने ग्राहक की पहचान और  उसके एड्रेस को सत्यापित करने के लिये उपयोग मे लेते हैं।

KYC के द्वारा यह सुनिश्चित किया जाता है कि किसी भी बैंक या किसी फाइनेंशियल संस्था का कोई भी ग्राहक उसकी सेवाओ का दुरुपयोग नही कर रहा है।

अब आपको यह तो पता चल हि गया होगा कि KYC Kya Hai – KYC क्या है और KYC कराने के पीछे क्या वजह है।

तो चलिये अब हम जान लेते है कि KYC Full Form In Hindi – what is kyc in hindi या kyc meaning in hindi मे क्या होती है?

KYC Full Form In Hindi – what is kyc in hindi

KYC Full Form In Hindi – “अपने ग्राहक को जाने” होता है असल मे भारत मे पहली बार KYC की शुरुआत सन्‌ 2002 मे भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा की गयी थी। उसके बाद सन्‌ 2004 मे सभी बैंको के  खाता धारको को KYC कराना अनिवार्य कर दिया गया।

इसी लिये अगर आप ने कभी अपने फिंगर से अपने खाते से पैसे निकाले होंगे या किसी और को अपने खाते से पैसे निकालते देखा होगा तो यह जरूर सोचा होगा कि यह पैसे फिंगर कि मदद से कैसे निकलते हैं तो उसके पीछे KYC हि है।

KYC Full Form in English

KYC Full Form in English – “Know Your Customer” यानि कि “अपने ग्राहक को जानेKYC Full Form in English मे होती है।

इस पोस्ट मे आगे बडने से पहले हमे यह जानना जरूरी है कि KYC कितने प्रकार कि होती है? तो चलिये जानते है-

यह पोस्ट भी पढे-

  1. EMI Full Form in Hindi : EMI क्या है? EMI की पूरी जानकारी
  2. ITI Full Form in Hindi – ITI क्या है? ITI कैसे करे? पूरी जानकारी

KYC के प्रकार?

KYC के मुख्य दो प्रकार होते है जो कि निम्न प्रकार से है-

  1. CKYC
  2. EYC

तो चलिये अब हम जान लेते है कि cKYC और eKYC क्या है?

cKYC क्या है? – c kyc full form in hindi

cKYC Full Form – “Central Know Your Customer

केंद्रीय स्तर पर होने वाली KYC प्रक्रिया को cKYC या Central KYC के नाम से जानते हैं। cKYC का इस्तिमाल बिमा कंपनियो, एनबीएफसी, म्यूचुअल फंडस कंपनियो आदि के द्वारा cKYC का इस्तिमाल किया जाता है।

eKYC क्या है? – e kyc full form in hindi

eKYC Full Form – “Electronic Know Your Customer

eKYC असल मे KYC का डिजिटल रूप है। इसमे बिना की कागजात के आपकी KYC की जाती है वो भी एक Electronic Devices कि मदद से। बस इसमे आपको अपने हाथ के किसी भी उंगली को बायोमेट्रिक डिवाइस पर रखना होता है जिसकी मदद से आपका सभी डेटा फ़ेच कर लिया जाता है।

भारत मे Aadhar eKYC सबसे ज्यादा प्रचलित है क्योंकि आपके आधार कार्ड मे आपका पहचान और पता दोनो हि डिजिटली प्रमाणित होते है।

KYC के लिये आवश्यक दस्तावेज – KYC Ke Liye Important Documents

अभी तक हमने इस पोस्ट मे KYC के बारे कुछ जानकारी जान ली है और कुछ भी बाकी है जो इस पोस्ट मे हम आगे जनेंगे तो चलिये  अब जान लेते है कि KYC Ke Liye Important Documents क्या क्या है?

KYC की प्रक्रिया के लिए प्रत्येक ग्राहक को एक फोर्म भरना होता है और साथ हि डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिये आवश्यक दस्तावेज कि फोटोकोपी लगानी होती है।

KYC कराने के लिये आपसे दो तरह के डोक्युमेंट की जरूरत होती है एक आपकी पहचान के लिये जिसे हम Identity Proof क़े नाम से जनते है और दूसरा आपके पते के लिये जिसे हम Address Proof कै  नाम से जानते है।

तो अब जानते है कि Identity Proof के लिये किस किस दस्तावेज की मदद साए हम अपनी KYC क्र सकते हैं-

  • आधार कार्ड
  • पेन कार्ड
  • पास पोर्ट
  • वोटर कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस

उपर बताये गये डाक्यूमेंट मे से किसी  भी एक को आप अपनी Identity Proof के जमा करा सकते है। साथ हि अगर आपके उस डाक्यूमेंट मे Address भी है तो भी आप उसे Address Proof के नाम से भी जमा करा सकते है। लेकिन अगर Address नहि तो उसके लिये आपको अलग से डाक्यूमेंट जमा कराना होगा।

चलिये अब हम जान लेते कि Address Proof कै लिये कौन कौन से डाक्यूमेंट जमा करा सकते है-

  • आधार कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • पासपोर्ट
  • बैंक पासबुक
  • बिजली का बिल, फौन का बिल, नल  का बिल या गैस का बिल जिसमे आपका Address लिखा हो।

उपर यह जितने भी डाक्यूमेंट है इनमे से आप किसी भी एक डाक्यूमेंट को Address Proof के लिये जमा करा सकते हैं।

KYC का उद्देश्य

KYC का मुख्य उद्देश्य होता है कि आसानी से कोई बैंक अपने कस्टोमर की पहचान कर सके और वित्तीये लेन देन मे कोई धोखा धडी ना हो। क्योंकि यह एक औनलाइन प्रोसेस होती है जिसमे सभी जानकारी आसानी से चेक की जा सकती हैं।

KYC का महत्व क्या हैं

KYC Form एक बहुत हि ज्यादा महत्वपूर्ण डाक्यूमेंट होता है क्योंकि जब भी हम किसी वित्तीये लेन देन या लोन के लिये अप्लाई करते हैं तो यह KYC Form हमारी पहचान कराने मे मदद करता है। और इसकी मदद से धोखाधडी और चोरी जैसी बहुत सारी घटनाओ से बचा जा सकता है।

KYC के लाभ?

वैसे तो KYC कराने के बहुत सारे लाभ हैं लेकिन उनमे से कुछ मे आप लोगो के साथ इस पोस्ट मे शेयर रहा हूँ जो निम्न प्रकार है-

  • KYC की सुविधा सभी ग्राहको के लिये बिल्कुल फ्री हैं।
  • KYC कि मदद से धोखा धडी जैसी घटनाओ की संभावनाये कम हो जाती है।
  • KYC कि मदद से डाक्यूमेंट वेरीफिकेशन बहुत हि कम समय मे हो जाता है।
  • इसकी मदद से कस्टॉमर के बारे सही जानकारी मिल पाती है जेसे कि Address, Identity,

KYC क्यो जरूरी है?

KYC कि मदद से धोखा धडी जैसी घटनाओ की संभावनाये कम हो जाती है। KYC कि मदद से डाक्यूमेंट वेरीफिकेशन बहुत हि कम समय मे हो जाता है। इसकी मदद से कस्टॉमर के बारे सही जानकारी मिल पाती है जेसे कि Address, Identity,

KYC FAQ:

क्या हम बिना KYC के किसी बैंक मे अकाउंट खोला सकते है?

नही! अगर आप बिना KYC के किसी बैंक मे अकाउंट खुलवाने की सोच रहे हैं तो ऐसा बिल्कुल भी पोसिबल नही है। और आप किसी भी बैंक बैंक मे बिना KYC के खाता नही खुलवा सकते।

KYC कराने मे कितना समय लगता है?

KYC कराने मे ज्यादातर एक दिन से कम का समय लगाता है लेकिन इसके लिये अधिकतम 7 दिन की समय सीमा तय की गयी है।

बिना KYC के क्या हम म्युचुवल फंड मे पैसे लगा सकते है?

नही! हम म्युचुवल फंड मे पैसे लगाने से पहले KYC कराना जरूरी है।

आपने क्या सीखा-KYC Kya Hai?

आज के इस पोस्ट मे हमने जाना कि kyc kya hai? – केवाईसी क्या है? या kyc kya hota hai? KYC Full Form in Hindi में क्या होती है? kyc ka full form क्या होता हैं? KYC कितने प्रकार की होती है? kyc full name क्या है? Full Form of KYCKYC क्या है Importance of KYC या KYC का महत्व क्या है? और KYC Documents कौन कौन से है? इसके  अलावा हमने KYC से सम्बंधित कुछ सवालो के जवाब भी दिये जो कि आपके बहुत काम के हो सकते हैं।

तो अगर आपको हमारा यह पोस्ट kyc kya hai? – केवाईसी क्या है? या kyc kya hota hai? KYC Full Form in Hindi में क्या होती है? पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करे लेकिन अगर आपको लगता है कि हमे इस पोस्ट मे कुछ जानकारी और जोडनी चाहिये तो आप हमे कमेंट के माध्ययम से जरूर बताये।

2 thoughts on “KYC Kya Hai? – KYC Full Form In Hindi व KYC की सम्पूर्ण जानकारी”

Leave a comment