EMI Full Form in Hindi : EMI क्या है? EMI की पूरी जानकारी

हैलो दोस्तो क्या आप जानना चाहते है कि EMI क्या है? EMI Ka Full Form या EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है? या किस्त कैसे बनाते हैं? या असल मे EMI का मतलब क्या होता है?

तो आपको EMI Full Form in Hindi के बारे में ज्यादा सोचने की जरूरत नही हैं क्योंकि आज के इस पोस्ट मे हम आपको यही बताने वाले हैं कि असल मे EMI क्या है? EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है? या किस्त कैसे बनाते हैं? या सिर्फ आप EMI Ka Full Form जानना चाहते है।

साथ हि साथ EMI के बारे मे और भी बहुत आवश्यक जानकारी आप लोगो के  साथ शेयर करने वाले है जिससे कि आप लोगो को यह अच्छे से समझ मे आ जाये कि EMI क्या है? EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है?

इस पोस्ट को लिखना मकसद हमारा यही है कि हम मे बहुत सारे लोग EMI भरते है लेकिन उनको यह पता नही होता है कि EMI क्या है? EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है? या किस्त कैसे बनाते हैं? या असल मे EMI का मतलब क्या होता है?

इसीलीये आज के इस पोस्ट मे हम आपको EMI के बारे मे पूरी जानकारी देंगे जिससे कि आपके मन मे जो EMI को लेकर सवाल हैं उनके आपको सही जवाब मिल सकें.

तो चलीये जानते है EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है? या EMI Ka Full Form क्या होता है?

EMI Full Form in Hindi – EMI Ka Full Form क्या होता है?

सबसे पहले हम यह जान लेते है कि EMI Ka Full Form क्या होता है? या इसका पूरा नाम क्या होता है?

EMI Ka Full Form : “EQUATED MONTHLY INSTALLMENT

EMI Full Form in Hindi : “EQUATED MONTHLY INSTALLMENT” यानि कि “मासिक किस्त”

अब तो आपको इसके बारे मे इसके नाम से हि पता चल गया होगा कि EMI क्या होती है तो चलिए हम जान लेते हैं इसकी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी जोकि हमारे काम आ सकती है।

EMI क्या है?

मान लिजीये कि आपके पास पैसा नही है और आपको पैसे जरूरत है तो ऐसे मे आप किसी बैंक से लोन लेते या फिर आप कोई सामान खरीदने जाते है जैसे कि मोबाइल, टीवी, फ़्रीज आदि और आपके पास इतने पैसे नही है तो ऐसे मे आप बजाज फाइनेंस जैसी कम्पनी से फाइनेंस पर वो सामान कुछ पैसे देकर खरीद लेते है तो ऐसे में बचा हुआ पैसा आपको मासिक किस्तो में देना होता है।

यह मासिक किस्ते आप अपने हिसाब से तीन, छ:, नौ, बारह, आदि करा सकते हैं। अगर आप ऐसा करते है तो आपको उस सामान का एक साथ पैसे ना देकर हर महीने किस्तो के रूप मे देना होता है जिसे हम EMI के नाम से जानते हैं।

EMI Ka Full Form क्या होता है?

अभी तक हमने आपको EMI Ka Full Form सिर्फ बैंकिंग सेक्टर के लिये बताया है लेकिन क्या आप जानते है किसी भी शोर्ट शब्द का पूरा नाम अलग अलग सेक्टर के लिए अलग अलग हो सकता है। इसी तरह EMI Ka Full Form भी एक नही है तो चलिये अब हम EMI के और फुल फोर्म के बारे में जान लेते हैं-

  • EMI : Equated Monthly Installment
  • EMI : Equal Monthly Installment
  • EMI  : Electronic Money Institution
  • EMI : Electromagnetic Inference
  • EMI : Electromagnetic Interference
  • EMI : Electric and Musical Instrument

यह सभी EMI Ka Full Form है जो कि अलग जगह के अनुसार इन्हे इस्तिमाल किया जाता है।

EMI कैसे करते है? – किस्त कैसे बनाते हैं?

तो अब जान लेते हैं कि EMI कैसे करते है? या कैसे हम किसी पैसे को Emi मे बदल सकते हैं-

उदाहरण- मान लीजिये कि आपने एक 10000 रुपये का मोबाइल लिया है और इसके  लिये आपने डाउन पेमेंट 5000 रूपये कर दिया है और आप अब चाहते है कि इस बचे हुये पैसे को आप आने वाले एक साल मे हर महीना कंपनी को दे देंगे तो अब कम्पनी आपसे कहती है कि हम आपको EMI तो कर देंगे लेकिन इसके लिये आपको 10 प्रतीशत का ब्याज वार्षिक देना होगा साथ हि 500 रूपये फाइल चार्ज देना होगा।

तो चलिये अब जान लेते हैं कि EMI केल्कुलेट कैसे करते है?

EMI Ka Full Form
EMI Ka Full Form

इस मोबाइल  के लिये आपको हर महीना 504.1 रुपये कि किस्त देनी  होगी 12 महीने तक तो इस तरह से आप किसी भी लोन की राशी के लिये EMI निकाल सकते हैं।

EMI का भुगतान कैसे करते हैं या EMI कैसे भरें

जब हम लोन ले लेते है तो हमरे पास सबसे बडी परेशानी आती है कि कैसे इसका भुगतान करेंगे वैसे तो  इसके लीये मुख्य तीन तरीके हैं जिसकी मदद से आप इसका भुगतान कर सकते है चलिये जान लेते हैं-

चैक के माध्ययम से-

जब भी हम लोन लेते है तो आज के इस दौर मे तो ज्यादातर कम्पनी हमारे चेक लेती है और आपको बता दिया जाता है कि हर महीने आपको उस तारीख मे इतने रुपये आपके अकाउंट मे दालने होंगे जब आप पैसे डाल देते है तो आपके चेक के माध्ययम साए वो कंपनी पैसे निकाल लेती है।

Online Payment-

मान लीजिये कि आपका चैक बाउंस हो जाता है या कम्पनी आपसे चेक नही लेती है तो ऐसे मे आप उस कम्पनी की वेबसाइट से या किसी अन्य थर्ड पार्टी ऐप्लीकेशन से भी किस्त का भुगतान कर सकते हैं।

Cash Payment –

बहुत सारी आज भी ऐसी कम्पनी है जो कैश मे किस्त का पेमेंट लेती है। आपको या तो उनके ओफिस पर जाकर पेमेंट देना होता है या फिर उनका कोई कर्मचारी आपके पास्से पैसे ले कर जाता है।

तो यही मुखय तरीके है EMI भुगतान करने के लिये।

EMI के फायदे व नुकसान

अभी तक हमने  यह जाना है कि EMI क्या है? EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है? या किस्त कैसे बनाते हैं? या EMI Ka Full Form क्या होता है? लेकिन अब हम जान लेते है कि EMI के फायदे व नुकसान क्या क्या होते है-

EMI के फायदे

पहले हम यहाँ पर जान लेते है कि EMI क्या क्या फायदे होते हैं और उसके बाद जानेगे कि इसके क्या नुकसान होते है-

  • अगर आपके पास समान खरीदने के लिये पैसे कम हैं तो आप आसानी से EMI पर सामन खरीद सकते हैं।
  • अगर आप समय पर EMI का भुगतान करते है तो आपका क्रेडिट स्कोर बड जाता है।
  • EMI मे धोखा धडी का खतरा भी बहुत कम होता है।
  • अगर आपके पास पैसा कम तो आप लोन लेकर अपना काम कर सकते है और उसे EMI मे भर सकते है।
  • ज्यादा पैसे को एक साथ भर कर छोटे छोटे अमाउंट मे भर सकते हैं जिससे हमे आसानी हो जाती है।

EMI के नुकसान

EMI के फायदे तो हैं हि साथ हि साथ इसके कुछ नुकसान भी हैं तो चलिये अब इसके नुकसान के बारे मे जान लेते है-

  • EMI के चक्कर मे आ कर अकसर जरुरत से ज्यादा का सामान खरीद लेते है।
  • समय पर किस्त ना देने पर आपको कई तरह की पेनेल्टी देनी होती है जैसे कि चैक बाउंस चार्ज आदि
  • EMI लेने पर हमे किमत से ज्यादा पैसा देना होता है जो कि ब्याज के रूप मे जाना जाता है।

आपने क्या सीखा EMI Ka Full Form

आज के इस पोस्ट मे हमने आपको EMI के बारे में बताया कि EMI क्या है? EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है? या किस्त कैसे बनाते हैं? या असल मे EMI का मतलब क्या होता है? EMI Ka Full Form क्या होता है? साथ हि साथ आपको इसके फायदे और नुकसान भी हमने आपको बताये हैं।

तो अगर आपको हमारा यह पोस्ट कि EMI क्या है? EMI Full Form in Hindi मे क्या होती है? या EMI Ka Full Form क्या होता है? पसंद आया तो इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करे जिससे उनको भी EMI के बारे में पूरी जानकारी मिल सके।

2 thoughts on “EMI Full Form in Hindi : EMI क्या है? EMI की पूरी जानकारी”

Leave a comment