DCA क्या होता है? DCA Ka Full Form क्या है? डीसीए के बारे में पूरी जानकारी

DCA Ka Full Form या DCA Full Form in Hindi – वर्तमान में कंप्यूटर की आवश्यकता जितनी बढ़ती जा रही है,लोग इसे और भी सीखने कि चाह रखते है। ऐसे कई सरे कोर्सेस बनाए गए है जिसमें छात्रों को कंप्यूटर के बारे में पढ़ाया जाता है।शिक्षा का महत्व दुनिया में अधिक है और शिक्षा के क्षेत्र में बहुत सारे कोर्स हैं जो छात्र द्वारा चुने जाते हैं। उनमे से यह भी एक कोर्स है। जिसे DCA के नाम से जाना जाता है।

DCA Full Ka Form
DCA Full Ka Form

DCA क्या है? DCA Ka Full Form – DCA Kaise Kare?

अगर आपको इस कोर्स के बारे में नहीं पता तो हम आपको इस आर्टिकल में DCA के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे जैसे – DCA क्या है? DCA Ka Full Form या DCA Full Form in Hindi और DCA Kaise Kare? DCA Me Admission Kaise Hota? साथ हि DCA Course Details in Hindi मे आपको सभी जानकारी मिलेगी जो कि DCA कोर्स से सम्बंधित होगी।

संपूर्ण जानकारी इस आर्टिकल को पढ़ के आपको मिल जाएगी। तो चलिए बिना देरी किए आर्टिकल शुरू करते है । और जानते है कि DCA क्या है? DCA Ka Full Form या DCA Full Form in Hindi और DCA Kaise Kare? DCA Me Admission Kaise Hota? साथ हि DCA Course Details in Hindi मे.

DCA क्या है? या DCA क्या होता है? – DCA Kya Hai?

तो चलिये अब हम जानते है कि DCA Kya Hai? DCA एक कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्स होता है। जो छात्र कंप्यूटर में रुचि रखते है वो इस कोर्स का चयन करते है। इस कोर्स में छात्र को कंप्यूटर के बारे में संपूर्ण जानकारी दी जाती है।

DCA एक साल का कोर्स होता है ,जिसमें दो सेमेस्टर होते है। जिस व्यक्ति को कंप्यूटर चलाना बिल्कुल नहीं आता वो भी इस कोर्स को करके कंप्यूटर सीख सकते है।

आप सभी जाने है कंप्यूटर सीखना कितना महत्वपूर्ण बनता जा रहा है आज के इंटरनेट के जमाने में, इसलिए हर एक व्यक्ति को कंप्यूटर जरूर सीखना चाहिए। कंप्यूटर का सबसे बेहतरीन कोर्स DCA होता है।

कम समय में आपको कंप्यूटर के बारे में सभी जानकारी इस कोर्स में आपको मिल जाती है। बेसिक जानकारी से लेकर कंप्यूटर एप्लीकेशन और सॉफ्टवेयर सभी का ज्ञान DCA मे प्राप्त होता है।

B.Sc क्या है? – BSC Full Form in Hindi? B.Sc की पूरी जानकारी
B.Com क्या है? B.com का फुल फॉर्म और B.com की पूरी जानकारी
BA क्या है? – BA Kya Hai? BA Ka Full Form या BA Ki Full Form क्या ह

DCA full form in english-

डीसीए का फुल फॉर्म इंग्लिश में “diploma in computer application” होता है

DCA Full Form in Hindi- DCA Ka Full Form

हिंदी में डीसीए का पूर्ण प्रपत्र या फुल फॉर्म “कंप्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा होता है”।

बारहवीं कक्षा के बाद अगर कोई छात्र कंप्यूटर के फील्ड में अपना करियर बनाना चाहता है तो वह डीसीए कर सकता है। DCA सॉफ्टवेयर वाले छात्रों के लिए सीखना बहुत आवश्यक होता है। डीसीए दो सेमेस्टर का होता है मतलब 6 महीने का एक सेमेस्टर माना जाता है।

डिप्लोमा में सामान्य जानकारी के साथ समस्त कंप्यूटर का ज्ञान आपको मिलता है। वर्तमान काल के लिए और आने वाले जेनरेशन के लिए ये बहुत ही अच्छा साबित हुआ है।

मुझे उम्मीद है कि आपको अभी यह अच्छे से समझ आ गया होगा कि DCA क्या है? या DCA क्या होता है? – DCA Kya Hai? और DCA Full Form in Hindi- DCA Ka Full Form क्या होता है।

तो चलिये अब हम जान लेते है कि DCA कैसे करे? – DCA Kaise Kare क्योंकि हमारे यह जानना बहुत हि जरूरी है तो चलिये जानते है-

DCA कैसे करें? – DCA Kaise Kare?

DCA कोर्स करने के लिए आपको कॉलेज या इंस्टीट्यूट में एडमिशन लेना होगा,हालाकि ये अब कंप्यूटर सेंटर में भी सिखाया जाने लगा है परंतु अच्छे मान्यता प्राप्त डिग्री के लिए आप इंस्टीट्यूट या कॉलेज ज्वाइन कर सकते है।

सबसे पहले जिस शहर में आप रहते है वाहा के किसी कॉलेज या इंस्टीट्यूट का चयन करें। आजकल हर जगह आपको डीसीए सिखाने वाला कोई ना कोई इंस्टिट्यूट मिल ही जाता है।आपको उस कॉलेज या इंस्टीट्यूट में एडमिशन करवाना होगा।

अगर आप कॉलेज में एडमिशन करवा रहे है आपको एडमिशन के लिए फॉर्म भरना होगा, उसके बाद कॉलेज में आपका चयन होगा ,जिसके बाद ही आप को प्रवेश दिया जाएगा। इंस्टीट्यूट में आप डायरेक्ट एडमिशन ले सकते है

एडमिशन लेने के बाद आपको डीसीए के बारे में सब कुछ पढ़ाया जाएगा और आप एडमिशन लेके डीसीए कर सकते हैं।

Qualification of DCA ( DCA के लिए योग्यता):-

डीसीए करने के लिए छात्र से कोई महत्वपूर्ण योग्यता नहीं मांगी जाती। जो साथ डीसीए करना चाहते हैं उनके पास दसवी और बारहवीं का रिजल्ट होना चाहिए ,जो कि एक मान्यता प्राप्त हायर सेकेंडरी स्कूल से होनी चाहिए।

आज के समय में आधार कार्ड का भी महत्व गया है इसलिए छात्रों से एडमिशन के समय आधार कार्ड मांगा जाता है। साथ ही दो पासपोर्ट साइज फोटो भी देनी होती है। इस पूरे कोर्स के लिए शुरू में इतनी योग्यता ही मांगी जाती है, इसके अलावा और कुछ नहीं।

DCA कोर्स फीस :-

क्योंकि प्राइवेट डिग्री की मान्यता सरकारी डिग्री से कम होती है ।इसलिए प्राइवेट से कोर्स करने की फीस कम ली जाती है ,और उसके मुताबिक सरकारी डिग्री की फीस अधिक होती है।

वैसे बहुत सारी इंस्टिट्यूट है जहां पर कम पैसे में आपको डीसीए कोर्स करवा दिया जाता है परंतु उसके डिग्री की मान्यता नहीं होती है। अगर आपको मान्यता प्राप्त डिग्री चाहिए तो उसका फीस थोड़ा अधिक होता है।प्राइवेट से डीसीए करने का कोर्स फीस 5000 से 10000 होती है। वही सरकारी डिग्री से डीसीए करके का कोर्स फीस 15000 से 20000 होता है।

इसके साथ अगर आप कोई बड़े कॉलेज या इंस्टिट्यूट में एडमिशन ले रहे हैं तो इसका फीस और भी ज्यादा होता है जैसे 50,000 से एक लाख तक । किसी भी कोर्स का फीस आपके चुने गए कॉलेज या इंस्टिट्यूट पर निर्भर करता है।

अगर आपको ज्यादा सुविधा वाले कॉलेज आई इंस्टिट्यूट पर जाना है तो आपको अधिक पैसा देना होगा परंतु अगर आप सिर्फ अध्ययन करने के मकसद से जाते है ,तो काम पैसे में आप डीसीए सीख सकते है।

DCA में कौन कौन से सब्जेक्ट होते है? – DCA Subject in Hindi

डीसी में कंप्यूटर के बारे में समस्त जानकारी दी जाती है इसलिए इसमें कई सारे विषय और सब्जेक्ट होते हैं ,जैसे –

● MS word
● MS Excel
● C ++language
● C programming language
● Computer basic
● MS paint
● MS PowerPoint
● Internet explorer
● Database
● IT security
● E-bussiness
● Tally basic
● HTML
● Notepad
● Wordpad
● Advance internet
● Typing in Hindi and English
● Software design
● Software engineering
● Software hacking

DCA में एडमिशन कैसे ले? – DCA Me Admission Kaise Hota

DCA में एडमिशन लेने के लिए कोई प्रवेश परीक्षा नहीं ली जाती है।इसमें एडमिशन का बहुत ही आसान प्रोसेस होता है। पहले आप ये सुनिश्चित कर लीजिए कि आपको कौन से कॉलेज या विश्ववद्यालय से अध्यन करना है।

उसके बाद उसके वेबसाइट में जाकर एडमिशन फॉर्म भर दीजिए ,वहां आपसे कई सरे डॉक्यूमेंट मांगे जाएंगे।आपको सभी जानकारी को ध्यान पूर्वक देना है।उसके बाद कॉलेज से आपकी मेरिट सूची जारी की जाएगी जिसमें बहुत सारे छात्रों का नाम चयन किया जाता है।

उसमे अगर आपका नाम आता है तो आप कॉलेज में प्रवेश ले सकते है। वैसे बहुत से सेंटर भी होते है जो DCA कोर्स करवाते है ,आप उनकी डिग्री की मान्यता पूछ कर वाहा भी एडमिशन के सकते है।

DCA के बाद जॉब

अभी इंटरनेट और कंप्यूटर का ही जमाना चल रहा है जिसको देखते हुए डीसीए करने वाले छात्रों को अनेक नौकरी मिल जाती है। जैसे ही डीसीए का कोर्स कंप्लीट होता है बहुत सी जॉब छात्रों को मिलती है जैसे –
● Data entry operator
● Graphic designer
● Web development
● Software engineering
● Networking
● Cyber cafe
● Database development
● Typing job
● Tally

इन क्षेत्रों में जॉब डीसीए करने वाले को आसानी से मिल जाती है। इसके अलावा चाहे तो वो टीचर भी बन सकते है। या फिर किसी सेंटर में आप कंप्यूटर सीखने वाले शिक्षक का पद भी प्राप्त कर सकते है।जैसे ही आप पूरा डीसीए कंप्लीट कर लेंगे आपके सामने अनेक जॉब आने लगेंगे।

DCA के बाद क्या करे? – DCA Ke Bad Kya Kare

डीसीए करने के बाद आपको बहुत अच्छे-अच्छे जॉब के अवसर सामने दिखेंगे परंतु अगर आप अपनी पढ़ाई कंप्यूटर के क्षेत्र में जारी रखना चाहते हैं तो आप कंप्यूटर साइंस से भी पढ़ सकते हैं जिससे आप एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर बन जाएंगे या फिर आप PGDCA भी कर सकते है,

यह एक पोस्टग्रेजुएट डिग्री होती है डीसीए में। अगर आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन में बैचलर की डिग्री चाहिए तो आप BCA कर सकते है। और इन सबसे अच्छा ऑप्शन यह होगा कि आप किसी सरकारी नौकरी की तैयारी करें। कंप्यूटर के फील्ड में अगर आप सरकारी नौकरी की तैयारी करते हैं तो आपको बहुत ही अच्छा कैरियर मिल सकता है।

DCA करने के फायदे – DCA Karne Ke Fayde

DCA computer कोर्स करने से कंप्यूटर का अच्छा ज्ञान हो जाता है ,जिससे आपको कंप्यूटर के क्षेत्र में अच्छी नौकरी मिल जाती है। DCA कोर्स को शासकीय और अशासकीय संस्थाओं से मान्यता प्राप्त है।

डीसीए कोर्स के फायदे बहुत है क्योंकि अगर कोई छात्र अपना कैरियर कंप्यूटर फील्ड में नहीं बनाना चाहता तो भी वह इस कोर्स को कर सकता है। DCA कम समय में कंप्यूटर का बेहतरीन कोर्स माना जाता है।

इसको जो सीख लेता है उसके लिए कंप्यूटर क्षेत्र के सभी नौकरी का रास्ता खुल जाता है। डीसीए कंप्यूटर के जाने माने कोर्स में से एक है। आज के इंटरनेट के जमाने में डीसीए कोर्स करना लाभदायक होता है।डीसीए कोर्स के फायदे अनेक है।

FAQ – DCA Ka Full Form और DCA क्या है? – DCA Kya Hai?

प्रश्न:- DCA का फुल फॉर्म क्या होता है?

उत्तर:- DCA course का फुल फॉर्म diploma in computer application होता है, इसका हिंदी अर्थ कम्प्यूटर एप्लीकेशन में डिप्लोमा होता है।

प्रश्न:- DCA के बाद क्या करना उचित होगा?

उत्तर:- डीसीए एक डिप्लोमा कोर्स होता है इसलिए डीसीए करने के बाद पीजीडीसीए करना उचित होगा जो कि एक पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स होता है।

प्रश्न:- क्या डीसीए के बाद बीएड किया जा सकता है?

उत्तर:- बीसीए करने के बाद छात्र अगर चाहे तो शिक्षा के क्षेत्र में जाने के लिए बीएड कर सकता है।

प्रश्न:- DCA कितने साल का होता है?

उत्तर:- DCA एक साल का कोर्स होता है जिसमें 2 सेमेस्टर होते हैं ,एक सेमेस्टर 6 महीने का होता है उस हिसाब से 1 साल में आप का पूरा कोर्स कंप्लीट हो जाता है।

प्रश्न:-DCA में कितने सब्जेक्ट होते है?

उत्तर:- डीसीए कोर्स आपके पड़ने पर निर्भर करता है इसमें बहुत सारी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी सिखाई जाती है इसलिए इसमें ज्यादा से ज्यादा 20 सब्जेक्ट होते हैं।

DCA के लिए योग्यता क्या होनी चाहिये?

डीसीए करने के लिए छात्र से कोई महत्वपूर्ण योग्यता नहीं मांगी जाती। जो साथ डीसीए करना चाहते हैं उनके पास दसवी और बारहवीं का रिजल्ट होना चाहिए ,जो कि एक मान्यता प्राप्त हायर सेकेंडरी स्कूल से होनी चाहिए।

Leave a comment