Barcode क्या है? Barcode की पूरी जानकारी हिंदी में

हैलो दोस्तो, क्या आप भी जनना चहाते हैं कि bar code kya hai or Barcode meaning in hindi? Barcode कितने प्रकार का होता है? और Barcode के क्या क्या फायदे और क्या क्या नुकसान है? साथ हि साथ Barcode का इस्तिमाल क्यो किया जाता हैं।

तो इस पोस्ट मे हम आपको bar code kya hai or barcode meaning in hindi? और Barcode के बारे पूरी जानकारी देने वाले वो भी बिल्कुल आसान हिंदी भाषा मे. जिससे कि आप लोगो को जो भि Barcode से समबंधित सवाल है और जो जानकारी लेना चाहते हैं।

वो आपको इसी पोस्ट के माध्ययम से मिल जाये और Barcode से समबंधित जानकारी लेने के लिये internet पर आपको ज्यादा समय बर्बाद ना करना पडे.

Bar Code Kya Hai
Bar Code Kya Hai

तो चलिये बब जान लेते कि bar code kya hai or barcode meaning in hindi? Barcode कितने प्रकार का होता है? और Barcode के क्या क्या फायदे और क्या क्या नुकसान है? साथ हि साथ Barcode का इस्तिमाल क्यो किया जाता हैं।

Bar code kya hai – Barcode क्या है – What is Bar code in Hindi

जब भी डैली इस्तिमाल के लिये कोई भी प्रोडक्ट खरीदते हैं तो हम उस प्रोडक्ट का MRP, वजन, Expiry date इत्यादि जरूर देखते हैं लेकिन कभि आपने यह गौर किया है जो प्रोडक्ट हम खरीद रहे उस पर MRP, वजन, Expiry date के अलावा भी प्रोडक्ट के पीछे आपने नम्बर और ब्लैक और सफेद रंग की लाइन का एक एक फोर्मेट जरूर देखा होगा इसी फोर्मेट को हम Barcode के नाम से जानते हैं।

अगर हम बात करे सीधे शब्दो में तो Barcode किसी प्रोडक्ट के पीछे छपे नम्बर और काले और सफेद लाइन का एक फोर्मेट होता है. जिसकी मदद से हम उस प्रोडक्ट की सभी जानकारी जैसे कि- MRP, वजन, manufacture date, expiry date, इत्यादि जानकारी हम इस Barcode से ले सकते हैं।

 Barcode Meaning in Hindi? – Barcode Definition in Hindi

दोस्तो अगर हम actual definition की बात करे तो हम कह सकते हैं कि यह एक machine readable code है जो कि नम्बर और लाइन का फोर्मेट होता है, यह लाइन अकसर parallel होती है और यह प्रोडक्ट के पीछे प्रिंट किया जाता है।

लेकिन सचाई यह है Barcode किसी भी बिजनेस के लिये बहुत उपयोगी होता है क्योंकि इसकी मदद से कम्पनी अपने प्रोडक्ट आसानी से ट्रेक कर सकती है।

साथ हि साथ कम्पनी अपने प्रोडक्ट की कीमत, स्टोक, सेल, प्रोडक्ट क़्वालिटी आदि को जांच कर सकती है। जिससे की कम्पनी को अपने प्रोडक्ट को बहतर बनाने मे मदद करता है। साथ हि साथ इसकी मदद से कम्पनी अपनी प्रोडक्ट की प्रोडक्टिविटी को अपने अनुसार बना बडा और घटा सकती है।

जिस लाइन और नम्बर के फोर्मेट को देख कर दर जाते है और हम परेशान हो जाते हैं वो कुछ नहि बल्कि एक डेटा को दर्शानी है. इसको हम barcode scanner की मदद से आसानी से पढ सकते हैं और जो भी डेटा हमे लेना वो ले सकते हैं।

Barcode कितने प्रकार का होता है?

अभी तक हमने इस पोस्ट मे यही जाना है Barcode क्या है लेकिन अब हम जानेंगे कि Barcode कितने प्रकार का होता है? क्योंकि अभी मार्कीट कई तरह के Barcode मार्कीट में आ गये तो चलीये जान लेते है Barcode कितने प्रकार का होता है?

बारकोड को मुख्यतः दो भागों में बांटा गया है-

  • Linear Barcode or 1-D Barcode
  • 2D Barcode

Linear Barcode or 1-D Barcode क्या होता है

Linear Barcode or 1-D Barcode को हम रेखाकार बारकोड के नाम से भी जानते हैं क्योंकि इसमे जो Barcode होता है उसे parallel line और नम्बर से दर्शाया जाता है। और इसे 1D diamension मे दर्शाया जाता है। इसी वजह से हम इसे Linear Barcode or 1-D Barcode या फिर रेखाकार बारकोड के नाम से जानते हैं।

2D Barcode

2D Barcode को हम द्विबिमीय बारकोड या 2 Dimensional Barcodes या 2D बारकोड के नाम से भी जानते हैं और इस 2D Barcode को QR कोड के नाम से भी जाना जाता है। इसमे 1D बारकोड के मुकाबले ज्यादा जानकारी छूपी होती हैं।

दरअसल 2D Barcode को एक नई तकनीक से बनाया गया है जिसका इस्तिमाल हम डिजिटल पेमेंट के लिये ज्यादा इस्तिमाल करते हैं। जैसे कि आपने phone pay, google pay, paytm, आदि मे इस्तिमाल किया होगा।

2D Barcode का इस्तिमाल दिन पे दिन बडता हि जा रहा है क्योंकि इस बारकोड को हम अपने मोबाइल से भी स्केन कर सकते है

Barcode के फायदे और नुकसान

आप सभी इस बात से अच्छे से वाकिफ हैं कि हर चीज के कुछ फायदे होते है तो साथ हि साथ कुछ नुकसान भी होते है। उसी तरह से Barcode के भी कुछ फायदे भी है तो कुछ नुकसान भी है.

तो चलिये हम जानते है कि Barcode के क्या क्या फायदे हैं और क्या नुकसान होते हैं।

Barcode के फायदे

तो चलिये सबसे पहले जानते है कि Barcode के क्या क्या फायदे है-

1. सामान खरीदते समय पैमेंट करने में ज्यादा समय नही लगता हैं यानि कि समय की बचत होती है।

2. online पेमेंट करने गलती होने से बच जाते हैं और हमारा पेमेंट आसानी से हो पाता है।

3. किसी प्रोडक्ट का Barcode कोड उस प्रोडक्ट की वो कीमत बताता है जो उस प्रोडक्ट की कम्पनी ने तय किया है। उस कीमत को कोई भी नही बदल सकता है।

4. अगर किसी प्रोडक्ट मे Barcode छपा हुआ है तो उस प्रोडक्ट की सारी जानकारी आप सिर्फ उस प्रोडक्ट के बार कोड को स्केन करके पता कर सकते हैं।

Barcode के नुकसान

हम सभी इस बात को अच्छे से जानते हैं कि अगर किसी चीज का कोई फायदा है तो उसका नुकसान भी होता है तो चलिये अब हम जान लेते है इस Barcode के क्या क्या नुकसान-

1. Barcode को पढने के लिये हमे Barcode reader की जरुरत होती है बिना Barcode reader के हम किसी भी प्रोडक्ट के बारे में जानकारी नही निकाल सकते हैं।

2. Barcode अगर फट जाता है या कट जाता है तो तो आप को उस प्रोदक्ट के Barcode से कोई भी जानकारी प्राप्त नही होगी।

3. अगर एक बार Barcode छप जाता है तो आप उसमे बदलाव नही कर सकते हैं। मतलब कि जो जानकारी आपने उस Barcode में डाली वो हि आपको स्केन करने पर मिलेगी। अगर एक बार Barcode छप जाता है तो हम उसे उपडेट नही कर सकते हैं।

4. अगर Barcode को पढते समय system फेल हो जाता है तो आपको दोबारा से प्रोडक्ट को स्केन करना पडेगा।

इस पोस्ट से आपने क्या सीखा?

दोस्तो हमने आपको इस पोस्ट मे bar code kya hai or barcode meaning in hindi? या barcode kya hota hai

के बारे मे जानकारी दी है। साथ हि साथ हमने आपको यह भी बताया है कि Barcode कितने प्रकार का होता है? और Barcode के क्या क्या फायदे और क्या क्या नुकसान है? साथ हि साथ Barcode का इस्तिमाल क्यो किया जाता हैं।

हमने आपको इस पोस्ट में bar code kya hai or barcode meaning in hindi? या फिर barcode kya hota hai

 के बारे में पूरी जानकारी देने कि पूरी कोशिश की है लेकिन अगर आपको लगता है कि इस पोस्ट में कोई अपडेट करना चाहिये तो आप हमें कमेंट करके जरूर बताये।

अगर आप हमारा साथ देते है और हमारा support करते हैं तो हमे बहुत ज्यादा खुशी होगी और आपको को एक अच्छी जानकारी मिल पयेगी।

1 thought on “Barcode क्या है? Barcode की पूरी जानकारी हिंदी में”

Leave a comment